बस्तर

सुकमा में कार्यरत नालंदा के सुपरवाइजर की मौत के बाद बस्तर पुलिस ने दिया कंधा

जगदलपुर @ कोरोना महामारी के वैश्विक संकट काल में समूचा विश्व तबाह है। देश के शीर्ष नेताओं के लॉक डाउन करने से पूर्व कोई तैयारी नहीं कि गई जिसके कारण देश की अवाम को भूखे पेट सैकड़ों मील पैदल चलकर काल के गाल में समाना पड़ रहा है तो वहीं किसी की मौत के बाद उसके परिजन उसे कांधा देने मौके पर नहीं पहुंच पा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला गुरुवार को सामने आया जब सुकमा में निर्माण कार्य में लगे बिहार में नालंदा के रहने वाले एक सुपरवाइजर की जगदलपुर के एक अस्पताल में मौत हो गई।

सुपरवाइजर का नाम रंधीर था। उसकी दोनों किडनी फेल हो गई थी। रंधीर की मौत के बाद पुलिस ने इसकी जानकारी परिवार वालों को दी। यह गरीब परिवार गुरुवार को दिनभर किसी तरह बस्तर आने के लिए परमिशन लेने की कवायद करता रहा। गरीब परिवार जहां तक अपनी बात पहुंचा सकता था।

पहुंचाने की कोशिश की लेकिन इसके बाद दोपहर होते होते परिवार की ताकत ने जवाब दे दिया। इसके बाद उन्होंने फोन पर पुलिस प्रशासन से कहा कि वे नहीं आ सकेंगे। बेटे का अंतिम संस्कार वीडियो कॉलिंग के जरिए दिखा दें। बस्तर पुलिस की सराहना पुलिस महानिदेशक डी एम अवस्थी ने फेसबुक पर पोस्ट कर की है।

बस्तर में मूलतः बिहार निवासी श्री रंधीर कुमार के निधन पर अंतिम संस्कार के लिए उनके परिजन नहीं पहुँच पाए। ऐसे में बस्तर…

Chhattisgarh Police छत्तीसगढ़ पुलिस இடுகையிட்ட தேதி: வெள்ளி, 24 ஏப்ரல், 2020

बस्तर पुलिस ने कहा हमें परिवार का सदस्य समझें, हम पूरी रीति से अंतिम संस्कार करेंगे दरअसल इस पूरे मामले की जानकारी गुरुवार को एसपी दीपक झा को लगी। उन्होंने मृतक के परिजनों से संपर्क किया और मामले की स्थिति को समझा। इसके बाद उन्होंने सीएसपी को इस सबंध में कार्रवाई को कहा।

इधर, पुलिस ने जब परिवार वालों से बात की तो उन्होंने बताया कि उन्हें भी परिवार की तरह ही समझें। यदि वे नहीं आ सकते तो रंधीर का अंतिम संस्कार वे यहां कर सकते हैं। यदि परिवार माने तो। परिवार भी झट से तैयार हो गया। इसके बाद शुक्रवार को खडक़घाट में मृतक का पुलिस जवानों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया। पूरे अंतिम संस्कार को वीडियो कॉलिंग के जरिए परिजनों को दिखाया गया।

To Top
Open chat