सियासत

अमित जोगी ने नवनियुक्त महाधिवक्ता के खिलाफ 17 प्रमाण देकर किया चौंकाने वाला ख़ुलासा

खबरी चिड़िया @ रायपुर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) अध्यक्ष श्री अमित जोगी ने इंडीयन नेशनल कांग्रेस के अध्यक्ष श्री राहुल गांधी को लिखा पत्र, नवनियुक्त महाधिवक्ता की इंडीयन नेशनल कांग्रेस की विचारधारा और नेहरु-गांधी परिवार के प्रति उनकी मानसिकता के 17 प्रमाण देकर किया चौंकाने वाला ख़ुलासा।

छत्तीसगढ़ शासन के महाधिवक्ता पद पर श्री सतीश चन्द वर्मा की नियुक्ति के दो ही मायने निकाले जा सकते हैं: या तो प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही उनका अचानक हृदय-परिवर्तन हो गया या फिर देश में भाजपा की सरकार बनते ही इंडीयन नेशनल कांग्रेस का इतना भयानक सैद्धांतिक-परिवर्तन हो गया है कि अब वो गांधी के पुजारी को अपमानित करके उनके हत्यारे गोडसे के प्रशंसकों को प्रदेश का सर्वोच्च न्याय अधिकारी बनाकर पुरस्कृत करने लगी है?:अमित जोगी

श्री राहुल गांधी सीधे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से स्पष्टीकरण माँगे और उस स्पष्टीकरण को तत्काल सार्वजनिक करें ताकि प्रदेश की जनता आश्वस्त हो सके कि छत्तीसगढ़ में गोडसे का नहीं बल्कि गांधी का राज आज भी क़ायम है: अमित जोगी

डॉक्टर रमन और नेता प्रतिपक्ष की ट्विटर पर बयानबाज़ी केवल दिखावा, असल में फूँट रहे मन में लड्डू। किस मुँह से भाजपा कर रही विरोध जब उन्हीं की विचारधारा के कट्टरपंथी को भूपेश ने बना दिया महाधिवक्ता? : अमित जोगी

अमित जोगी का लिखा पत्र

प्रति,
श्री राहुल गांधी जी
माननीय सांसद (वायनाड) एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष 
इंडीयन नेशनल कांग्रेस
12 तुगलक लेन 
नई दिल्ली

विषय: श्री भूपेश बघेल द्वारा नवनियुक्त महाधिवक्ता से छत्तीसगढ़ पर छाया संवैधानिक और सैद्धांतिक संकट की ओर आपका ध्यान आकृष्ट करने हेतु।

आदरणीय श्री राहुल गांधी जी,

(A) छत्तीसगढ़ के आपकी पार्टी के विधायक दल के नेता तथा छत्तीसगढ़ शासन के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा दिनांक 31/05/2019 की रात्रि को छत्तीसगढ़ सरकार के महाधिवक्ता की नियुक्ति करी गई है। ऐसा करना उनका विशेषाधिकार है। किंतु जिन कारणों और जिस प्रकार से उनके द्वारा इस नियुक्ति को किया गया, उससे आज पूरे प्रदेश में संवैधानिक संकट खड़ा हो गया है। इस सम्बंध में मैंने भारत के अटर्नी जर्नल (महान्यायवादी) को विस्तार से पत्र लिखकर अवगत करा दिया है, जिसकी प्रतिलिपि आपके अवलोकनार्थ संलग्न कर रहा हूँ। (Annexure A-1)

(B) मेरा आपको यह पत्र लिखने का मुख्य उद्देश्य यह है कि जिस महानुभाव को मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने संविधान द्वारा उन्हें प्रदत्त शक्तियों का दुरुपयोग करके अपनी सरकार का महाधिवक्ता बनाया है, उनकी नियुक्ति से प्रदेश में न केवल संवैधानिक संकट छाया हुआ है बल्कि उस से कहीं ज़्यादा गम्भीर सैद्धांतिक संकट उत्पन्न हो गया है।

(C) आपकी पार्टी की ‘प्यार की विचारधारा’ का समर्थक और आपके परिवार के प्रति सम्मान रखने के नाते, मैं आपको छत्तीसगढ़ शासन के नवनियुक्त महाधिवक्ता श्री सतीश चन्द वर्मा के संदर्भ- विशेषकर उनकी विचारधारा तथा आपके परिवार और पार्टी के प्रति उनकी मानसिकता- में निम्नलिखित 17 तथ्यों को आपके समक्ष प्रस्तुत कर रहा हूँ:

  1. 23 अगस्त 2014 की रात 10:32 उन्होंने “अखंड भारत” संस्था द्वारा जारी बयान “दोस्तों, पप्पू के बयान प्रधानमंत्री मोदी अज्ञानी है पर आप कुछ कहना चाहते हैं?” लिखकर अपनी मंशा प्रकट की।
  2. 19 अक्टूबर 2014 की रात 10:05 उन्होंने स्वामी रामदेव के कथन “भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस मुक्त राज्य बनाने के लिए हरियाणा और महाराष्ट्र की जनता को साधुवाद” को “Perfectly right” और “बिल्कुल सही” करार देते हुए बयान साझा किया।
  3. 18 फरवरी 2016 की दोपहर 3:49 उन्होंने “इलाहाबाद हाई कोर्ट का राहुल गांधी पर देशद्रोह दर्ज करने का आदेश” शीर्षित खबर पर स्वयं “Good” लिखकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करी।
  4. 23 फरवरी 2016 की सुबह 8:30 उन्होंने लिखा: “इंडिया का पप्पू- उत्तर प्रदेश में बिना इजाजत सभा करने पर पुलिस ने राहुल गांधी का माइक छीन लिया, राहुल गांधी बोले- देखा आपने, मोदी सरकार मुझे बोलने नहीं दे रहे हैं? जिस गधे को यह नहीं पता उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी का सरकार है, वह PM बनने के सपने देख रहा है।”
  5. 22 मार्च 2016 की शाम 4:40 उन्होंने “स्वर्णिम भारत का स्वर्णिम स्वप्न” द्वारा जारी कथन “भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के चाचा का 1965 युद्ध पर विचार- क्या हो गया जो हम युद्ध हार गए और मानसरोवर और अक्साई चीन का कुछ इलाका चीन ने हड़प लिया, वह जमीन वैसे भी बंजर है, जहां तिनका तक नहीं उगता” के समर्थन में “वाह-वाह” लिखकर पोस्ट फ़ेसबुक पर साझा किया।
  6. 8 मई 2016 की शाम 5:33 को उन्होंने “मोदी ने पूरा किया वादा- जेल जा सकते हैं वाड्रा, सोनिया के दामाद वाड्रा पर ईडी ने कसा शिकंजा” शीर्षक खबर के आगे स्वयं “अच्छे दिन आने वाले हैं” टिप्पणी लिखकर अपना समर्थन ज़ाहिर किया।
  7. 12 मई 2016 की रात 8:45 उन्होंने “दुर्योधन और राहुल गांधी दोनों ही अयोग्य- सिर्फ राज परिवार में पैदा होने के कारण शासन पर अपना अधिकार समझते हैं और अर्जुन और नरेंद्र मोदी- दोनों योग्यता से धर्म के मार्ग पर चलते हुए शीर्ष पर पहुंचे जहां उनको एहसास हुआ कि धर्म का पालन कर पाना कितना कठिन होता है” पर “Good” लिखकर अपनी प्रतिक्रिया जारी की।
  8. 17 जुलाई 2016 की शाम 4:48 उन्होंने AkhandBharatNews.com द्वारा प्रकाशित “बॉक्सिंग मैच देखने पहुंचे राहुल गांधी का मोदी-मोदी के नारे के साथ किया स्वागत” शीर्षक खबर का समर्थन किया।
  9. 19 सितंबर 2016 की रात 9:46 उन्होंने “राहुल गांधी कुछ तो शर्म करो- 20 जवान शहीद हो गए और आप राजनीति कर रहे हो” शीर्षक नामक पोस्ट फ़ेसबुक पर साझा किया।
  10. 28 मार्च 2017 की 6:53 “We Support Sangh Parivaar” संस्था द्वारा जारी कथन “भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस 100 करोड़ हिंदुओ से अपनी चुनावी हार का बदला ले रही है। इस कुकर्म की गूंज देश के हर कोने तक जाएगी। बदला 2019 में लेंगे” कथन का स्वयं “YES” लिखकर समर्थन किया।
  11. 31 मई 2017 की शाम 5:30 बजे उन्होंने “Narendra Modi For PM 2019” मोर्चा द्वारा प्रकाशित खबर “कांग्रेस का चेहरा अगर इतना भयानक है तो हमें एक टाइम भूखा रखकर ही कांग्रेस मुक्त भारत बनाना है” शीर्षक वाली, गौ-मांस खाते हुए एक व्यक्ति की तस्वीर, डालकर अपना समर्थन प्रकट किया।
  12. 23 जून 2017 की शाम 12:19 उन्होंने DainikBharat.org के कथन “ISI जनरल के इशारे पर काम करती थी सोनिया-मनमोहन सरकार” के समर्थन में फेसबुक पर एक पोस्ट साझा किया ।
  13. 17 फरवरी 2018 की दोपहर 2:08 उन्होंने अधिवक्ता श्री केशव गुप्ता द्वारा जारी बयान “नीरव मोदी का प्रधानमंत्री मोदी से उतना ही संबंध है जितना कि राहुल गांधी का महात्मा गांधी से” का “हा हा हा हा हा हा हा” लिखकर समर्थन किया।
  14. 15 अप्रैल 2018 की सुबह 7:50 उन्होंने निम्नदर्शित कार्टून, जिसमें भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पर हिंदुओं के विरुद्ध “दोहरी मानसिकता” पर तंज कसा गया है, को साझा किया।
  15. 19 जून 2018 की शाम 4:41 उन्होंने “बार-बार सरकार- Modi Forever” नामक संस्था द्वारा जारी बयान “BJP ने जम्मू कश्मीर में PDP से गठबंधन तोड़ा, महबूबा मुफ्ती पत्थरबाज आतंकवादियों का कर रही थी समर्थन इसलिए अब लगेगा राज्यपाल शासन। बड़े पैमाने पर अब होगा जिहादियों और आतंकियों का सफाया” पर “हर हर महादेव” लिखकर अपना समर्थन दिया।
  16. 1 अगस्त 2018 की दोपहर 2:37 उन्होंने सचित्र प्रश्न पूछते हुए बयान जारी किया कि “देश के दो टुकड़े कर दिए गए मगर कहीं से कोई आवाज नहीं आई, आधा कश्मीर चला गया, कोई गौर नहीं किया, तिब्बत चला गया, कही विरोध नहीं, अपने ही देश में शरणार्थि बने कश्मीर के पंडितो पर किसी को कोई दर्द नहीं हुआ, लेकिन आज असम NRC में सामने आये घुसपैठियों के लिए दर्द फूट रहा है” पोस्ट जारी करी।
  17. 11 अगस्त 2018 की दोपहर 2:23 उन्होंने लिखा: “अमर बलिदानी खुदीराम बोस का आज ही है बलिदान दिवस, गांधी-नेहरू ने नहीं, इन जैसे बलिदानों ने दिलाई आजादी। गांधी-नेहरू से फुर्सत मिले तो इन्हें भी याद करना।”

(C) श्री सतीश चन्द वर्मा की अगस्त 2014 से अगस्त 2018 (विधान सभा चुनाव के मात्र 3 महीने पहले) के बीच उपरोक्त 17 वर्णित अभिव्यक्तियों- जिनकी प्रतिलिपियाँ (Annexures B-1 से B-17) आपके साथ प्रमाण स्वरूप इस पत्र के साथ साझा कर रहा हूं- से छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा नियुक्त महाधिवक्ता की वैचारिक एवं सैद्धांतिक मानसिकता स्पष्ट रूप से उजागर होती है। इससे ज्यादा दुर्भाग्य की क्या बात हो सकती है कि जिस पार्टी के नेता आज भी अपने “प्यार में विचार” के लिए तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद निडरता के साथ लड़ाई लड़ रहे हैं, उनके द्वारा चयनित मुख्यमंत्री ने एक ऐसे व्यक्ति को अपनी सरकार का मुख्य न्यायिक अधिकारी नियुक्त कर दिया है जिसकी स्वयं की विचारधारा भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सभी मौलिक सिद्धांतों के ठीक विपरीत है।

(D) श्री सतीश चन्द वर्मा की छत्तीसगढ़ शासन के महाधिवक्ता पद पर नियुक्ति के दो ही मायने लगाए जा सकते हैं: या तो प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही श्री सतीश चन्द वर्मा का अचानक हृदय-परिवर्तन हो गया या फिर देश में भाजपा की सरकार बनते ही इंडीयन नैशनल कांग्रेस पार्टी का इतना भयानक सैद्धांतिक और वैचारिक-परिवर्तन हो गया है कि अब वो गांधी के पुजारी- इस सम्बंध में यह बताना आवश्यक है कि श्री कनक तिवारी, जिन्हें बेइज़्ज़त करके महाधिवक्ता पद से आपके दल के नेता ने बर्खास्त कर दिया है, ने “गांधीयाना” शीर्षित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचारों पर 12 पुस्तकों की शृंखला का प्रकाशन किया है- के स्थान पर उनके हत्यारे गोडसे के प्रशंसकों और उपासकों को पुरस्कृत करने लगी है? इस से आप राष्ट्र को क्या संदेश देना चाहते हैं? इस सम्बंध में आपको ये भी बताना ज़रूरी समझता हूँ कि एक बड़ी सोची-समझी रणनीति के तहत भाजपा केवल ट्विटर पर बयानबाज़ी करके केवल विरोध का दिखावा कर रही है। असल में उनके मन में ख़ुशी के लड्डू फूँट रहे हैं क्योंकि उन्हीं की विचारधारा के कट्टरपंथी को श्री भूपेश बघेल ने महाधिवक्ता बना दिया है।

(E) मुझे आशा है कि इस अत्यंत ही गम्भीर विषय पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से स्पष्टीकरण जरूर मांगने और उस स्पष्टीकरण को सार्वजनिक करने की असीम कृपा करेंगे ताकि प्रदेश की जनता आश्वस्त हो सके कि छत्तीसगढ़ में गोडसे का नहीं बल्कि गांधी का राज आज भी क़ायम है।

धन्यवाद,

भवदीय

(अमित जोगी)

संलग्न दस्तावेज़: उपरोक्त अनुसार

साभार: भूमकाल समाचार

To Top
Open chat