Home » छत्तीसगढ़ » Chhattisgarh हाई कोर्ट ने दी दुष्कर्म पीड़िता को गर्भपात कराने की अनुमति
छत्तीसगढ़

Chhattisgarh हाई कोर्ट ने दी दुष्कर्म पीड़िता को गर्भपात कराने की अनुमति

Read Time0 Second

बिलासपुर। दुष्कर्म पीड़िता को शनिवार को अनचाहे गर्भ से छुटकारा मिल जाएगा। पीड़िता की याचिका पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट की सिंगल बेंच ने छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान(सिम्स) के विशेषज्ञ चिकित्सकों की देखरेख में पीड़िता को गर्भपात कराने की अनुमति दे दी है।

जस्टिस प्रशांत मिश्रा के सिंगल बेंच ने सीएमएचओ को निर्देशित किया है कि सिम्स के विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम बनाई जाए । हाई कोर्ट के निर्देश पर सीएमएचओ ने सिम्स के विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम बना दी है। शनिवार की सुबह 10 बजे स्वास्थ्य परीक्षण के बाद युवती का गर्भपात कराया जाएगा।

बिलासपुर निवासी युवती पिछले दिनों घर में अकेली थी। इसका लाभ उठाकर एक युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया था। कुछ दिन बाद युवती को गर्भवती होने का पता चला। उसने आरोपित पर विवाह करने का दबाव बनाया लेकिन वह विवाह से इन्कार करता रहा। उसने गर्भपात कराने के लिए डॉक्टरों से संपर्क किया। डॉक्टरों के इन्कार करने पर उसने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर गर्भपात कराने की अनुमति देने गुहार लगाई है।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %