बस्तर

माओवादियों ने किया आर्सेलर मित्तल की वाटर पाइप को परिया के पास क्षतिग्रस्त

फ़ोटो: सीजी26

सुकमा: सोमवार व मंगलवार की दरम्यानी रात नक्सलियों ने गादीरास थाना क्षेत्र के परिया गांव के पास आर्सेलर मित्तल की वाटर पाइप लाइन को स्लरी पाइप लाइन समझकर क्षतिग्रस्त कर दिया.

सीजी26 की रिपोर्ट के मुताबिक उनके पत्रकार ने एसपी शलभ सिन्हा से बात की तो उन्होंने बताया कि आर्सेलर मत्तल के कर्मचारियों से उन्हें वाटर पाइप लाइन के क्षतिग्रस्त होने की जानकारी दी है. गौरतलब है कि आर्सेलर मित्तल कम्पनी स्लरी पाइप लाइन में माध्यम से किरंदुल से विशाखापटनम तक लौह अयस्क की सप्लाई करती है. इसके लिए कंपनी ने 267 किमी लम्बी स्लरी व वाटर पाइप लाइन बिछा रखी है.

फ़ोटो: सीजी26

वाटर पाइप लाइन के क्षतिग्रस्त होने से स्लरी की सप्लाई सीधे तौर पर कितनी प्रभावित हुई इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है. नक्सली इससे पहले भी गादीरास थाना क्षेत्र के परिया, कुचारास व मारोकी इलाके में कई बार स्लरी पाइप लाइन को नुकसान पहुंचाते रहे हैं.

फ़ोटो: सीजी26

माओवादियों की इस करतूत से कम्‍पनी को खासा नुकसान उठाना पड़ता है. आर्सेलर मित्तल के अधिकारी ने बताया कि स्लरी पाइप लाइन के साथ वॉटर पाइप लाइन के बीच 5—6 फीट की दूरी है. सामान्य तौर पर पाइप डैमेज नहीं हो सकता. नक्सलियों ने वॉटर पाइप लाइन को स्लरी पाइप लाइन समझकर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया है.

To Top