बस्तर

Exclusive : माओवादी लौटाएंगे दूरदर्शन के पत्रकार अच्युतानंद का कैमरा

प्रभात सिंह @ दंतेवाड़ा छत्तीसगढ़ के बस्तर के दो विधानसभा क्षेत्रों लोहंडीगुड़ा और दंतेवाड़ा में उपचुनाव होने हैं। जिसमें दंतेवाड़ा काफी संवेदनशील माना जाता है। यहाँ अरनपुर थाना क्षेत्र के नीलावाया में पिछले वर्ष विधानसभा चुनाव में खुलने वाले मतदान केंद्र की ओर जा रही पुलिस पार्टी पर 30 अक्टूबर 2018 दिन मंगलवार को घात लगाए नक्सलियों ने हमला कर दिया था।

इस हमले में डीआरजी के एसआई रूद्रप्रताप सिंह, सहायक आरक्षक मंगलू मंडावी और दूरदर्शन टीवी समाचार चैनल के कैमरामैन अच्युतानंद साहू की मौत हो गई थी । आरक्षक विष्णु नेताम और सहायक आरक्षक राकेश कौशल गंभीर रूप से जख्मी थे। दोनों का जिला हास्पिटल दंतेवाड़ा में प्राथमिक उपचार के बाद हेलिकॉप्टर से रायपुर रेफर कर दिया गया था। सहायक आरक्षक राकेश कौशल की भी समय पर उचित उपचार नहीं मिलने से मौत हो गई थी। जिनकी बहन कविता कौशल को अनुकंपा नियुक्ति के तहत सरकार ने दंतेवाड़ा में ही नौकरी दी है।

दूरदर्शन के कैमरामैन अच्युतानंद साहू जो बलांगीर, उड़ीसा के निवासी थे। हमले के तुरंत बाद कैमरामैन अच्युतानंद साहू का कैमरा माओवादियों ने अपने कब्जे में ले लिया था।

माओवादी नेताओं से मिली जानकारी के मुताबिक माओवादियों ने कुछ सप्ताह पूर्व बड़े नेताओं के साथ बैठक कर सर्वसम्मति से निर्णय लिया है कि यह कैमरा दूरदर्शन के पत्रकार के परिवार या दूरदर्शन टीवी चैनल को लौटा दिया जाए। मिली जानकारी के मुताबिक माओवादी वह कैमरा किसी पत्रकार, समाजसेवी या किसी पार्टी के निष्पक्ष नेता को वह कैमरा सौंप सकते हैं। कैमरे से शहीद पत्रकार अच्युतानंद साहू की हत्या से जुड़े राज बाहर आ सकते हैं।

Most Popular

To Top
Open chat