छत्तीसगढ़

बिलासपुर: छोटे कमरे में रखे 50 मवेशियों की दम घुटने से मौत, 50 से अधिक गंभीर

प्रतीकात्मक तस्वीर (नई दुनिया)

बिलासपुर: पशुओं की देश में जो हालात है उससे वर्तमान में हर भारतवासी वाकिफ है। देश भर से पशुओं के साथ होते आ रहे अत्याचारों की फेहरिस्त काफी बड़ी है। छत्तीसगढ़ में सरकार इस व्यवस्था को सुधारने और पशुओं को न्याय दिलाने उनकी देखभाल के लिए विशेष योजना चलाकर ग्रामीणों को जागरूक कर रही है। लेकिन ग्राम पंचायत की लापरवाही के कारण पशुओं के मौत का ताजा मामला बिलासपुर जिले से आया है।

मिली जानकारी के मुताबिक तखतपुर ब्लॉक के मेड़पारा पंचायत में 50 मवेशियों की एक साथ मौत हो गई जबकि क़रीब 50 की हालत गंभीर बनी हुई है। यहाँ पुराने पंचायत भवन के एक छोटे कमरे में सौ से उपर मवेशियों को रखा गया था। जहाँ सुबह तक दम घूँटने से 50 मवेशियों की मौत हो गई।

इस मामले में कलेक्टर सारांश मित्तर ने मीडिया में कहा है कि “ यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, और हम पता लगा रहे हैं कि ऐसी क्या परिस्थिति निर्मित हुई कि मवेशियों को इतने छोटे से कमरे में रख दिया गया, गंभीर प्रत्येक गोवंश को स्वास्थ्य लाभ देने पशु चिकित्सकों की पूरी टीम मौजुद है, साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों का दल भी। हम गौ वंश मालिकों को क्षतिपूर्ति भी दे रहे हैं। यह अक्षम्य है दोषियों को नहीं छोड़ेंगे”

Most Popular

To Top
Open chat