Home » सोशल » योगी के खबर का वीडियो वायरल स्वतंत्र पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया गिरफ्तार
सोशल

योगी के खबर का वीडियो वायरल स्वतंत्र पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया गिरफ्तार

Read Time3 Second

दीपांकर पटेल @ खबरी चिड़िया द वायर के पूर्व जर्नलिस्ट और स्वतंत्र पत्रकार Prashant Kanojia को UP पुलिस ने गिरफ्तार किया है, पुलिस उन्हें गिरफ्तार करके लखनऊ ले गई है.
उनकी पत्नी का कहना है कि “सादी वर्दी में 3-4 पुलिस वाले आये और अरेस्ट वारंट तक नहीं दिखाया, बताया UP पुलिस से हैं और गिरफ्तार करके ले गये.”
उनकी गिरफ्तारी सोशल मीडिया पर शेयर किए गए एक वीडियो की वजह से हुई है।

परसों से कानपुर की एक महिला का वीडियो वायरल है जो योगी आदित्यनाथ के लिए प्रेम पत्र लेकर लखनऊ गयी थी, प्रेम पत्र 100 रूपये के स्टॉम्प पेपर पर था. महिला कह रही थी कि “मुख्यमंत्री जी उससे वीडियो कॉन्फ्रैन्सिंग पर बातचीत करते थे, काफी प्रेम की भी बातें हुई हैं.”
इस महिला के वायरल वीडियो में समाचार प्लस, न्यूज वर्ल्ड इंडिया, 24×7 न्यूज के माइक दिख रहे हैं. तो जाहिर तौर पर वीडियो इन्हीं किसी के रिपोर्टर/स्टिंगर से सोशल मीडिया तक पहुंचा है.

प्रशांत कन्नौजिया प्राइमरी रूप से वीडियो लीक करने वालें तो हैं नहीं. ना ही अकेले उसकी प्रोफाइल से ये वीडियो सोशल मीडिया पर आया है. तो क्या प्राथमिकी सिर्फ कैप्शन पर है? क्योंकि वीडियो तो कई लोगों ने शेयर किया है इस तरह तो सब पर आरोप दर्ज होने चाहिए.
प्रशांत ने ह्यूमरस लगने वाले कैप्शन के साथ वीडियो को ट्विटर और फेसबुक पर शेयर किया. कैप्शन में कुछ भी ऐसा नहीं लगता जो योगी आदित्यनाथ की छवि को गम्भीर रूप से नुकसान पहुंचाता हो.

इससे बहुत घटिया-घटिया बातें जिनमें हद दर्जे की गाली-गलौच की भाषा होती है लोग नेताओं के लिए इस्तेमाल करते रहें हैं.
प्रशान्त का कैप्शन पढ़कर कोई भी सामान्य बुद्धि का आदमी यही कहेगा ये मजाकिया लहजे में लिखा गया है.
कई लोग तो वीडियो देखकर भी यही कह रहे हैं कि ये महिला का पब्लिसिटी स्टंट लगता है. इस तरह के कमेंट प्रशांत की पोस्ट पर भी आये हैं और प्रशांत ने वीडियो को महिला का पब्लिसिटी स्टंट बताने वाले किसी भी कमेंट को डिलीट नहीं किया है.

अब साल 2017 याद करिए जब योगी आदित्यनाथ को विन डीजल से कम्पेयर करने वाला मीम सोशल मीडिया पर डाला गया था तब भी इसी तरह की FIR हुई थी. फिर क्या हुआ?
मीम पर योगी से TV चैनलों के इन्टरव्यू तक में पूछा जाता था कि आपकी शक्ल तो विन डीजल से मिलती है. जवाब में योगी जी हंस देते थे..

कुछ इसी तरह की बातें राहुल गांधी के बारे में भी किसी महिला ने कही थी. उसका भी वीडियो आया था तब BJP की IT सेल ने कैसे-कैसे कैप्शन के साथ आपके वॉट्सएप तक वो वीडियो पहुंचाया था ये आपमें से कई लोगों को याद भी होगा. लेकिन वॉट्सऐप पर आये आपत्तिजनक कैप्शन्स के बावजूद लोगों ने सिरियसली से रिऐक्ट नहीं किया.
ये सब क्या बताता है…??
सोशल मीडिया को लेकर लोग मेच्योर हो चुके हैं, लेकिन शायद प्रशासन नहीं हुआ है.
प्रशान्त कन्नौजिया की गिरफ्तारी की निंदा करते हैं…

साभार: फेसबुक वॉल

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %